कुछ पुराने सवाल याद आ गये मुझे,

कुछ पुराने सवाल याद आ गये मुझे, जिनके जवाब शायद तब थे मेरे पास. आज मुड़े-कुचले पन्ने हैं, वो सवाल हैं, पर जवाब गायब हैं. जवाब, धुंधले-धुंधले कुछ अस्पष्ट से,…

Continue Reading

जमाने हुए

नज़र और नज़ारे तो देखा बहुत हैं तुम्हे ही न देखा 'जमाने हुए' ये मुमकिन था अगर खुदा चाह लेते खुदा ने ना चाहा ' जमाने हुए' कई दौर गुजरी,…

Continue Reading
Close Menu